बहुत अजीब हैं

बहुत अजीब हैं ये बंदिशें मोहब्बत की… कोई किसी को टूट कर चाहता है, और कोई किसी को चाह कर टूट जाता है..!!

मैं शैतान हूँ

मैं शैतान हूँ कम से कम तब, जब तुम मेरे सामने भगवान बनने की कोशिश करो

गैरों से पूछती है

गैरों से पूछती है तरीके निजात के अपनों की साजिशों से परेशान जिन्दगी|

मैं इस तलाश में

मैं इस तलाश में बरसों से सो नहीं पाया के मेरी नींद न जाने कहाँ पे रखी है|

इंसान अगर ज्यादा मजबूत हो

इंसान अगर ज्यादा मजबूत हो जाये, तो रिश्ते कमजोर पड़ जाते है।

लगता था ज़िन्दगी को

लगता था ज़िन्दगी कोबदलने में वक़्त लगेगा… क्या पता था बदलता हुआ वक़्त ज़िन्दगी बदल देगा..

अपनी जिंदगी से

अपनी जिंदगी से इस कदर नाराज है हम से … बस साँसे गुजर रही है मौत की तलाश में……

दो बूंद मेरे प्यार की

दो बूंद मेरे प्यार की पी ले, जिन्दगी सारी नशे मे गुज़र जाएगी…

लफ़्ज़ों ने बहुत

लफ़्ज़ों ने बहुत मुझको छुपाया लेकिन…. उसने मेरी नज़रों की तलाशी ले ली

अभी तो साथ चलना है

अभी तो साथ चलना है समंदरों की लहरों मॆं… किनारे पर ही देखेंगे… किनारा कौन करता है?