बड़े सुकून से

बड़े सुकून से वो रहता है आज कल मेरे बिना, जैसे किसी उलझन से छुटकारा मिल गया हो उसे…

कोई ऐसी सुबह भी

कोई ऐसी सुबह भी मिले मुझे, के मेरी आँख खुले तेरी आवाज से..

सुनो‬.. इस दूनिया मेँ

सुनो‬.. इस दूनिया मेँ हर वो एक शख्स अकेला हैँ जिसने सच्चे दिल से मोहब्बत की हैँ…!!

मकड़ी भी नहीं फँसती

मकड़ी भी नहीं फँसती, अपने बनाये जालों में। जितना आदमी उलझा है, अपने बुने ख़यालों में…।।

बेहिसाब हसरतें न पालिये

बेहिसाब हसरतें न पालिये. जो मिला है उसे संभालिये..!

गया वो वक़्त जब

गया वो वक़्त जब परियों की कहानी हमें सुला देती थी अब एक परी का किस्सा हमें सोने नहीं देता रात भर…

कोई उन्हें भी नौकरी दे

कोई उन्हें भी नौकरी दे दो दिल तोडने की डिग्री है उनके पास…

संदेशा प्रेम का

संदेशा प्रेम का देता फिरता है वो घर दिलों में सभी के ही बना देता है!

अजब हाल है

अजब हाल है, तबियत का इन दिनो, ख़ुशी ख़ुशी नहीं लगती और गम बुरा नहीं लगता !!

रो पड़ा वो

रो पड़ा वो शक्स आज अलविदा कहते-कहते, जो कभी मेरी शरारतो पर देता था धमकियाँ जुदाई की !!