कोई चुरा ना पाये

हँसी आपकी कोई चुरा ना पाये; कभी कोई आपको रुला ना पाये; खुशियों के ऐसे दीप जले ज़िंदगी में; कि कोई तूफ़ान भी उसे बुझा ना पाये।

उत्तम समय कभी नहीं आता

“समस्या” के बारे में सोचने से, बहाने मिलते हैं, “समाधान” के बारे में सोचने से, रास्ते मिलते हैं… ज़िन्दगी को “आसान” नहीं, बस खुद को “मजबूत” बनाना पड़ता है। उत्तम समय कभी नहीं आता, समय को उत्तम बनाना पड़ता है…….

हँसना और हँसाना

हँसना और हँसाना कोशिश है मेरी; हर कोई खुश रहे यह चाहत है मेरी; भले ही कोई मुझे याद करे या ना करे; हर अपने को याद करना आदत है मेरी।

निगाहें नाज़ करती है

निगाहें नाज़ करती है फ़लक के आशियाने से, खुदा भी रूठ जाता है किसीका दिल दुखाने से..!! लाखों ठोकरों के बाद भी, संभलता रहूँगा मैं.. गिरकर फिर उठूँगा, और चलता रहूँगा मैं.. ग्रह-नक्षत्र जो भी चाहें, लिखें कुंडली में मेरी.. मेहनत से अपना, नसीब बदलता रहूँगा मैं. लिखने वाले ने क्या खूब लिखा है… जिंदगी […]

जिसको मौका मिलता है

जिसको मौका मिलता है पीता ज़रूर है, ना जाने क्या मिठास है गरीब के खून मेँ…!

दो ‪‎लब्ज़ क्या लिखे

दो ‪‎लब्ज़ क्या लिखे तेरी ‪याद‬ मे.. लोग कहने लगे तु आशिक‬ बहुत पुराना है|

याद रखते हैं

याद रखते हैं हम आज भी उन्हें पहले की तरह…; कौन कहता है फासले मोहब्बत की याद मिटा देते हैं।

आँखोँ के परदे भी

आँखोँ के परदे भी नम हो गए बातोँ के सिलसिले भी कम हो गए. . . पता नही गलती किसकी है वक्त बुरा है या बुरे हम हो गए. .

याद रखते हैं

याद रखते हैं हम आज भी उन्हें पहले की तरह…कौन कहता है फासले मोहब्बत की याद मिटा देते हैं।

तू पंख ले ले

तू पंख ले ले और मुझे सिर्फ हौंसला दे दे, फिर आँधियों को मेरा नाम और पता दे दे !!