आज तक बहुत

आज तक बहुत भरोसे टूटे,
मगर भरोसे की आदत नहीं टूटी।